बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन कीजिए 2022

बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन कीजिए? तो अगर आपको बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन कीजिए के बारे में जानना है तो आज मै आप सभी को अपने लेख के मदत से पूरी जानकारी दूंगा।

बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन कीजिए

आज मै आप सभी को बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन करने वाला हु तो आज मै आप सभी को तोड़ा इतिहास बताना चाहता हु। जब भारत 1947 में अंग्रेजो से आजाद हो गया था और भारत को स्वतंत्रता मिला था। उसके बाद भारत का बटवारा हो गया और भारत को दो हिस्सों में बात दिया गया। एक हिस्सा भारत और दूसरा हिस्सा पाकिस्तान।

बीच क्षेत्रफल भारत का था और पूर्व और पश्चिम क्षेत्रफल पाकिस्तान का था जिस पूर्व पाकिस्तान और पश्चिम पाकिस्तान कहा करते थे। पूर्व पाकिस्तान को ही आज के समय में बांग्लादेश कहते है। पूर्व पाकिस्तान में बंगाली मुस्लिम रहते थे।

पाकिस्तान की सरकार पूर्व पाकिस्तान के जनता के ऊपर बोहोत क्रूरता देखते थे इस्लिये पूर्व पाकिस्तान के लोग 26 मार्च 1971.में विद्रोह कर दिए और पूर्व पाकिस्तान का नाम हटा के बांग्लादेश नाम रख दिए। इस बात से नाराज होकर पाकिस्तान सरकार क्रूरता की सारी हदे पार कर दी और बांग्लादेश के 30 लाख लोगो की जान ले ली।

इस क्रूरता को देख कर भारत की समय की प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी जी ने बांग्लादेश की लोगो की माड़ट करने का फैसला किया और अपने देश के सैनिको को बांग्लादेश के लोगो की मदत करने के लिए भेज दिए। फिर भारत के योद्धाओ ने बोहोत ही वीरता के साथ पाकिस्तान को हरा दिया। और बांग्लादेश को पाकिस्तान से आजादी दिला दी तो इस प्रकार बंगलदेश का नया उदय हुआ।

तो आज मै आप सभी को बताया की बांग्लादेश के उदय के विभिन्न कारणों का वर्णन कीजिए? तो अगर आपको इस विषय के बारे में जानना है तो आप मेरे लेख के मदत से जान सकते है। इसके बारे में बोहोत सारे सरकारी परीक्षाओ में भी पूछा जाता है इस्लिये आज मै इस विषय पर विस्तार से चर्चा किया हूँ।

इसे भी पढ़े

Leave a Comment